NDA vs India 2024 : PM Modi पर विपक्ष का निशाना ,NEET-UG और UGC-NET पेपर लीक पर संसद में शक्ति प्रदर्शन

Share with the world

18वीं लोकसभा का पहला सत्र आज से शुरू हो रहा है। जो तूफानी होने वाली है ,क्योंकि विपक्ष इस बार पहले से मजबूत है जो PM Modi और NDA सरकार को स्पीकर के चुनाव पर, NEET-UG और UGC-NET में पेपर लीक के आरोपों पर चर्चा, और अस्थायी स्पीकर की नियुक्ति पर 26 जून को को घेरने की तैयारी में है।

PM Modi
NDA vs India

24 जून को यानि हाल ही में सम्पन हुए लोकसभा चुनावों के बाद यह संसद का पहला सत्र शुरू हो रहा है, जिसमें PM Modi सहित नवनिर्वाचित सदस्यों को शपथ दिलाई जाएगी। इस बार लोकसभा में भाजपा ने 240 सीटें और एनडीए गठबंधन ने मिल कर 293 सीटें जीतीं हैं। और इंडिया ब्लॉक ने 234 सीटें जीतीं हैं जिसमें कांग्रेस ने 99 सीटें हैं । पहले राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू सात बार के सांसद भरतृहरि महताब को लोकसभा अस्थायी स्पीकर की शपथ दिलाएंगी।

भाजपा नेता भरतृहरि महताब की अस्थायी स्पीकर के रूप में नियुक्ति पर विवाद के चलते कार्यवाही में व्यवधान होने की संभावना है क्योंकि विपक्ष का दावा है   कि एनडीए सरकार ने सभी परंपराओं और रिवाजों का उल्लंघन किया है। “भारत की संसद से संबंधित कुछ प्रथाएं हैं, और यह हमेशा पार्टी की परवाह किए बिना वरिष्ठतम सदस्य होता है, जिसे अस्थायी स्पीकर बनने का अवसर दिया जाता है।

ALSO READ : Narendra Modi Government 3.0 : पीएम किसान सम्मान निधि योजना की रकम में हो सकती बढ़ोतरी ? 

यह केवल दो दिनों की बात है, लेकिन यह सदस्य को दिया गया सम्मान होता है, चाहे वह किसी भी पार्टी का हो। दुर्भाग्य से, एक दलित सदस्य, जो कि केरल से आठ बार के सांसद हैं, उनको  अस्थायी स्पीकर बनने का अधिकार नहीं दिया गया है। यह एनडीए सरकार के दलित और उत्पीड़ित समुदायों के प्रति दृष्टिकोण को दिखाता है। उन्होंने सभी परंपराओं और रिवाजों का उल्लंघन किया है.

PM Modi को इन मुद्दों पाए घेरे का विपक्ष ?

विपक्ष प्रधानमंत्री मोदी और NDA सरकार को अस्थायी स्पीकर के  नियुक्ति के साथ ही , NEET-UG और UGC-NET में पेपर लीक सहित अन्य अनियमितताओं पर घेरने की कोशिश करेगा। क्यों की राहुल गांधी और प्रियंका गांधी, दोनों कांग्रेस नेताओं, ने NEET-UG 2024 में अनियमितताओं पर भाजपा पर निशाना साधा और कहा कि वे विद्यार्थियों के साथ खड़े हैं। संसद भी अस्थायी स्पीकर की नियुक्ति पर बहस करेगी।

सोमवार को अखिलेश यादव की अध्यक्षता में समाजवादी पार्टी की संसदीय बैठक भी दिल्ली में होगी। आज के सत्र के बाद, 26 जून को लोकसभा स्पीकर का चुनाव होगा और 27 जून को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू दोनों सदनों को संबोधित करेंगी। 18वीं लोकसभा का पहला सत्र 24 जून से 3 जुलाई तक होगा, जिसमें नवनिर्वाचित सदस्यों की शपथ ली जाएगी। 27 जून से भी राज्यसभा का 264वां सत्र शुरू होगा और 3 जुलाई तक चलेगा।

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *