”इंदिरा गांधी के 40 साल बाद Austria की यात्रा पर PM Modi : दोनों देशों के संबंधों की 75 वर्षीय वर्षगांठ पर मजबूती का जश्न”

Share with the world

इंदिरा गांधी के 40 साल बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने Austria की यात्रा की हैं ।  नरेंद्र मोदी की चार दशक में पहली दोनों देशों के 75 वर्षों के संबंधों की वर्षगांठ पर हुई है,

Austria
Austria PM modi

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चार दशक में पहली बार ऑस्ट्रिया की यात्रा करते हुए भारत-ऑस्ट्रिया मित्रता को मजबूत करने पर जोर दिया मास्को से वियना पहुँचने पर मोदी ने चांसलर कार्ल नेहमर सहित कई अन्य नेताओ से मुलाकात की। यह यात्रा दोनों देशों के 75 वर्षों के संबंधों की वर्षगांठ पर हुई है, जिसमें द्विपक्षीय सहयोग और वैश्विक हितों पर चर्चा हुई है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चांसलर कार्ल नेहमर के साथ एक निजी बैठक में हिस्सा लिया और द्विपक्षीय सहयोग की पूरी क्षमता का उपयोग करने पर चर्चा की, आधिकारिक वार्ता से पहले। मास्को से मंगलवार शाम को ऑस्ट्रिया पहुंचे PM मोदी का हवाई अड्डे पर स्वागत विदेश मंत्री अलेक्जेंडर शालेनबर्ग ने किया।

रंधीर जायसवाल, विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता, ने X पर पोस्ट करते हुए लिखा, भारत-ऑस्ट्रिया साझेदारी में एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर!

प्रधानमंत्री @narendramodi का ऑस्ट्रियाई चांसलर @karlnehammer ने निजी बैठक के लिए स्वागत किया। यह दोनों नेताओं की पहली मुलाकात है।

द्विपक्षीय साझेदारी की पूरी क्षमता का एहसास करने के लिए चर्चाएं आगे होंगी।

चांसलर कार्ल नेहमर एक फोटो पोस्ट करते हुए कहा “वियना में आपका स्वागत है, प्रधानमंत्री @narendramodi!” नेहमर ने आगे कहा ऑस्ट्रिया में आपका स्वागत करना खुशी और सम्मान शौभाग्य है। भारत और ऑस्ट्रिया दोनों मित्र और भागीदार हैं। मैं आपकी यात्रा के दौरान हमारी आर्थिक और राजनीतिक चर्चा का इंतजार कर रहा हूँ!”

प्रधानमंत्री ने ऑस्ट्रियाई चांसलर का “गर्मजोशी से स्वागत” करने के लिए धन्यवाद दिया और कहा कि वह भी “हमारी चर्चाओं का इंतजार कर रहे हैं।” वैश्विक हितों को और बेहतर बनाने के लिए हमारे देश मिलकर काम करते रहेंगे।”

1983 में इंदिरा गांधी के बाद किसी भारतीय प्रधानमंत्री ने Austriaकी पहली यात्रा की है।

1983 में इंदिरा गांधी के बाद भारत का कोई प्रधानमंत्री ऑस्ट्रिया नहीं गया था  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की इस महत्वपूर्ण यात्रा ने दोनों देशों के संबंधों को और अधिक मजबूत बनाया है। ऑस्ट्रिया के वरिष्ठ अधिकारियों ने उनका गर्मजोशी से स्वागत किया और द्विपक्षीय वार्ताओं में कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा की गई।

वियना पहुंचने पर प्रधानमंत्री ने कहा, “वियना में उतरा हूँ। यह ऑस्ट्रिया यात्रा अलग है। हमारे देशों में समान मूल्यों और एक बेहतर धरती के लिए प्रतिबद्धता है। ऑस्ट्रिया में चांसलर @karlnehammer के साथ बातचीत, भारतीय समुदाय के साथ बातचीत सहित कई कार्यक्रमों का इंतजार कर रहा हूँ।”

Also Read ;Narendra Modi Government 3.0 : पीएम किसान सम्मान निधि योजना की रकम में हो सकती बढ़ोतरी ?

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *