kuwait में आवासीय इमारत में भीषण आग: 40 भारतीयों सहित 49 की मौत, सैकड़ों घायल

Share with the world

Kuwait के मंगाफ { Mangaf }  शहर में एक आवासीय इमारत में आग लगने से 49 लोगों की मौत हो गई हैं मरने वालों में कम से कम चालिस भारतीय शामिल हैं। बुधवार को एक बिल्डिंग में आग लगी, जहां सैकड़ो काम वाले अप्रवासी लोग रहते थे।

Kuwait ,
Kuwait block fire

Kuwait के इस घटना और भारतीयों के मौत की पुस्टि भारत के विदेश मंत्रालय ने भी किया हैं भारतीय मृतकों में अधिकांश  लोग केरल और तमिलनाडु के रहने वाले है । साथ ही लगभग पांच सौ भारतीय घायल हो गए हैं। घायलों में नेपाली और फिलीपीनी कर्मचारी भी शामिल हैं। कुवैत की दो-तिहाई आबादी विदेशी मजदूरों पर निर्भर है, जो घरेलू उद्योगों और निर्माण क्षेत्रों में काम करते हैं। मानवाधिकार समूहों ने अक्सर उनके रहने की व्यवस्था पर चिंता व्यक्त की है।

अस्थानीय मीडिया को कुवैत के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि आग लगने के समय इमारत में “बहुत अधिक संख्या” में लोग थे “कई लोगों को बचा लिया गया, लेकिन दुर्भाग्यवश आग से धुएं के कारण कई लोगों की मौत हो गई,

क्या बोले kuwait उप प्रधान मंत्री ?

कुवैत के उप प्रधान मंत्री शेख फहद यूसुफ अल सबह ने संपत्ति मालिकों पर लालच का आरोप लगाया और कहा कि इस दुर्घटना का कारण भवन निर्माण में  मानकों का उल्लंघन हैं । शेख अल-सबह, जो कार्यवाहक गृह मंत्री भी हैं,

आंतरिक मंत्रालय के प्रवक्ता मेजर-जनरल ईद अल-ओविहान ने बताया कि बुधवार को स्थानीय समयानुसार 06:00 बजे (03:00 GMT) पर आग की सूचना मिली थी। PM Narendra Modi ने घायलों और उनके आश्रितों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है। X  पर उन्होंने कहा, “कुवैत सिटी में आग की घटना दुखद है।” मैं उन लोगों के साथ हूँ जिन्होंने अपने प्रियजनों को खोया है। मेरी प्रार्थना है कि घायल जल्द से जल्द स्वस्थ हो जाएं।”

भारतीय दूतावास घटना को देख रहा है और जमीन पर अधिकारियों के साथ काम कर रहा है। गुरुवार सुबह भारत सरकार के मंत्री, कीर्ति वर्धन सिंह,ने समाचार एजेंसी ANI को बताया  पीड़ितों की पहचान के लिए डीएनए परीक्षण किए जा रहे हैं। सेना का एक विमान तैयार है। घटना में पीड़ित लोगो ने नजदीकी  रिश्तेदारों को सूचित किया जाएगा और जैसे ही शवों की पहचान की जाएगी हमारा वायुसेना का विमान शवों को ले कर भारत आएगा।

Read this also :Sunita Williams और butch wilmore का अनूठा परीक्षण : अंतरिक्ष में मैन्युअल पायलटिंग

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *