Bihar के लिए Special state का दर्जा या Special package की मांग, 29 jun 2024 को JDU की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में प्रस्ताव पारित?

Share with the world

राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में जनता दल (यूनाइटेड), ने Bihar के लिए Special state का दर्जा या Special package की मांग का प्रस्ताव पारित किया। JDU बिहार और केंद्र सरकार दोनों में BJP की मुख्य सहयोगी है.यह बैठक Nitish Kumar की अध्य्क्षता में संम्पन हुई ,

Bihar
Bihar . JDU National Executive Meeting

जनता दल यूनाइटेड (JDU) ने पूर्व राज्य मंत्री और राज्यसभा सांसद संजय झा को कार्यकारी अध्यक्ष बनाया। यह अगले वर्ष 2025 अक्टूबर-नवंबर में होने वाले Bihar  विधानसभा चुनावों से पहले एक महत्वपूर्ण पहल है। संजय झा ने पार्टी को विशेष दर्जा देने के लिए आवश्यक “विशेष पैकेज” को शामिल करने का व्यावहारिक तरीका बताया।

विशेष राज्य का दर्जा या विशेष पैकेज के मुद्दे पर अपनी सफाई और केंद्र सरकार का बचाव करते हुए JDU के नवनिर्वाचित कार्यकारी अध्यक्ष संजय झा ने कहा “हम सभी जानते हैं कि वित्त आयोग ने विशेष दर्जा (राज्यों के लिए) के विचार को समाप्त कर दिया है,” । लक्ष्य यह है कि बिहार को केंद्रीय सहायता मिलनी चाहिए। अब केंद्रीय सरकार के साथ इसे आगे बढ़ाएंगे। प्रधानमंत्री का ध्यान पूर्वी भारत की प्रगति पर है। हमें आशा है कि केंद्र हमारे अनुरोध पर विचार करेगा।”

Bihar को Special state या  Special package की आवश्यकता:

प्रस्ताव में बिहार के विकास के लिए विशेष दर्जा या विशेष पैकेज की आवश्यकता पर जोर दिया गया। पार्टी का मानना है कि इससे राज्य की विकास गति को तेज किया जा सकेगा। सीमित संसाधनों के बावजूद, बिहार ने कई विकास कार्य किए हैं। विशेष दर्जा या विशेष पैकेज से बिहार की विकास गति को तेज किया जा सकेगा।

Bihar में  SC, ST, OBC के आरक्षण पर ख़तरा ?

जेडीयू ने हाल ही में Patna High Court के फैसले पर भी चिंता व्यक्त की, जो नवंबर 2023 में नीतीश सरकार के एससी, एसटी,ओबीसी और ईबीसी के लिए कोटा को 50% से बढ़ाकर 65% करने के निर्णय पर रोक लगा दी है . JDU ने सुप्रीम कोर्ट में इस आदेश को चुनौती देने का फैसला किया है और केंद्र सरकार से आग्रह किया है कि इस कानून को संविधान की नौवीं अनुसूची में शामिल किया जाए।

नीट और नेट परीक्षाओं में पेपर लीक:

जेडीयू ने नीट और नेट परीक्षाओं में पेपर लीक की घटनाओं पर गहरी चिंता व्यक्त की और संसद से मजबूत कानून पारित करने की मांग की “हम मानते हैं कि विभिन्न परीक्षाओं के प्रश्न पत्रों के लीक होने की पूरी जांच होनी चाहिए और दोषियों को दंडित किया जाना चाहिए ताकि परीक्षा प्रणाली में विश्वास फिर से स्थापित किया जा सके”, प्रस्ताव में कहा गया है।”

जनता दल यूनाइटेड के राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में देश में बेरोजगारी और बढ़ती महंगाई पर भी चिंता व्यक्त की गई जेडीयू ने एनडीए से इन समस्याओं को हल करने में सफलता की उम्मीद जताई है। जेडीयू ने अपनी बैठक में बिहार के विकास के लिए विशेष दर्जा या विशेष पैकेज की मांग को प्रमुखता दी और केंद्र सरकार से विभिन्न मुद्दों पर प्रभावी कदम उठाने की मांग की।

Also Read :Jharkhand High Court से मिली जमानत के बाद Hemant Soren 28 jun 2024 बिरसा मुंडा जेल से रिहा ?

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *